Browsing Category

Social Buzz

रवीश कुमार : यूपीए से ज़्यादा एनडीए ने चार साल में उत्पाद शुल्क चूस लिया

तेल की बढ़ी क़ीमतों पर तेल मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का तर्क है कि यूपीए सरकार ने 1.44 लाख करोड़ रुपये तेल बॉन्ड के ज़रिए जुटाए थे…

मजदूर दिवस पर पढ़िए सेवानिवृत IPS प्रशान्त करण का यह लेख ‘मैं मजदूर…

रांची: आज एक मई है। मजदूर दिवस है। अपने देश के अलावा यह अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस है। आज सुबह से मेरे पास मजदूर दिवस की शुभकामनाओं…

नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत के नाम एक बिहारी युवा का खत

माननीय सम्मानित अमिताभ कांत जी, आज आपका एक बयान पढ़ने को मिला की बिहार, यूपी, छत्तीसगढ़ जैसे उत्तरी राज्यों के कारण देश का विकास…

नवागंतुक पत्रकारों का मार्गदर्शन करती वरिष्ठ पत्रकार प्रभात रंजन दीन की…

‘फेसबुक’ को मैं ‘मित्रों के चेहरे वाली किताब’ कहता हूं, जिसके पठनीय पन्नों में आप सब शुमार हैं। आज मैं समग्र मित्र-समुदाय से अपनी…

नीतीश युग का अवसान !

पटना: तारीख़ 24 जनवरी 2014... खचाखच भरे पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में जननायक स्व. कर्पूरी ठाकुर की जयंती समारोह का आयोजन चल…

आखिर इस युवा पत्रकार को क्यों लिखना पड़ा ‘मीडिया में भी ओवैसी हैं, एक…

अब तक जब भी किसी मुस्लिम या दलित की मौत हुई, मीडिया ने उसे धर्म-जाति के हिसाब से ही देखा, लिखा और सबको देखने पर मजबूर किया है…

नीतीशजी यकीन मानिए आपका इतिहास किताबों में नहीं लोगों के दिलों पर लिखा…

अभय पाण्डेय: नीतीशजी बधाई हो कागजी तौर पर आपकी शराबबंदी सफल रही। उम्मीद है दहेज़ मुक्ति के क्षेत्र में भी आप नया कृतिमान गढ़ेंगे।…

विद्यालयों को विद्यालय हीं रहने दीजिए, कार्यालय मत बनाइये।

इतिहास गवाह है गुणवत्तापूर्ण शिक्षा में बिहार के शिक्षण संस्थानों का कोई जोर नहीं। विश्वस्तरीय शिक्षण संस्थान, विशेष शिक्षा पद्धति…