हाईकोर्ट की केजरीवाल पर सख्त टिपण्णी, धरने की इजाजत किसने दी

0 471

दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप राज्यपाल अनिल बैजल के बीच सियासी ड्रामा लगातार जारी है। एलजी ऑफिस में आज केजरीवाल को धरने को आठवां दिन है। इस बीच दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल के धरने पर सख्त टिप्पणी की है। कोर्ट ने कहा कि हम समझ नहीं पा रहें कि ये धरना है या हड़ताल और इसकी इजाज़त किसने दी? क्या LG हाउस में बैठना मान्य है?

हाईकोर्ट ने आगे सवाल पूछा कि अगर ये खुद व्यक्तिगत रूप से (केजरीवाल और मंत्रियों द्वारा) लिया गया फैसला है तो ये एलजी के घर के बाहर होना चाहिए था। क्या एलजी के घर के अन्दर ये धरना करने के लिए इजाजत ली गई है? कोर्ट ने कहा कि आप ऐसे किसी के घर या दफ्तर में जाकर हड़ताल पर नहीं बैठ सकते हैं।

दरअसल, केजरीवाल के धरने के खिलाफ बीजेपी द्वारा दायर की गई याचिका पर सोमवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने सुनवाई की। इस दौरान बीजेपी विधायक विजेंद्र गुप्ता ने कोर्ट से अपील की केजरीवाल के धरने को खत्म कराया जाए। वहीं दिल्ली सरकार के वकील ने कहा कि आईएएस अफसरों ने रविवार को माना था कि वो दिल्ली सरकार के मंत्रियों द्वारा बुलाई बैठक में शामिल नहीं हो रहे हैं।

बता दें, 12 जून से सीएम अरविंद केजरीवाल अपने मंत्री मनीष सिसोदिया, गोपाल राय और सत्येन्द्र जैन के साथ उपराज्यपाल के आवास पर धरने पर बैठे हैं। इस बीच सत्येन्द्र जैन की सोमवार को तबीयत बिगड़ गई। उन्हें LNJP अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल के मुताबिक रात दो बजे के बाद उनकी सेहत में सुधार हो रहा है। उनके ब्लड प्रेशर, कीटोन स्तर में भी सुधार देखा जा रहा है। हालांकि उन्हें अभी ICU में ही रखा गया है।

Loading...

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time
Leave A Reply