Joint Military Exercises 2021 | प्रमुख संयुक्त युद्ध अभ्यास की सूची

0 618

Joint Military Exercises 2021 : विश्व के कई देश समय-समय पर दुसरे देशों के साथ युद्ध अभ्यास का आयोजन करते हैं। इसका उद्देश्य अपने सैन्य क्षमता और कुशलता में वृद्धि करना होता है। जल, थल और वायु तीनो स्तर पर युद्धाभ्यास का आयोजन किया जाता है। इस दौरान सैन्य बल एक दुसरे देश के साथ नियंत्रित वातावरण में युद्ध जैसी प्रक्रिया में शामिल होते हैं। इस दौरान सेनाएं अपने अंतर संचालन क्षमता का प्रदर्शन करती है और साथ ही युद्ध नीति की बारीकियों को भी समझती है।

प्रमुख संयुक्त युद्ध अभ्यास की सूची

वज्र प्रहार (Vajra Prahar )
  • भारत और अमेरिका के विशेष बलों द्वारा हिमाचल प्रदेश में संयुक्त युद्धाभ्यास वज्र प्रहार (VAJRA PRAHAR)-2021 का आयोजन किया गया।
  • इससे पहले भारत और अमेरिकी नौसेना द्वारा पूर्वी हिंद महासागर क्षेत्र में दो दिवसीय ‘पैसेज सैन्य अभ्यास’ (Passage Exercise-PASSEX) का आयोजन किया गया था।

संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ भारत के अन्य युद्ध अभ्यास:

  • युद्ध अभ्यास (सेना)।
  • कोप इंडिया (वायु सेना)।
  • रेड फ्लैग (अमेरिका का बहुपक्षीय वायु अभ्यास)।
  • मालाबार युद्ध अभ्यास (भारत, अमेरिका और जापान का त्रिपक्षीय नौसेना अभ्यास)।
AMPHEX- 21

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में बड़े पैमाने पर सेना के तीनों अंगों का संयुक्त जल-थल-नभ युद्धाभ्यास AMPHEX- 21 का आयोजन किया गया. इस अभ्यास में थल सेना, नौसेना और भारतीय वायु सेना के सैनिकों की भागीदारी थी। इस युद्धाभ्यास का उद्देश्य अपने द्वीप क्षेत्रों की क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए भारत की क्षमताओं का सत्यापन करना था।

डेजर्ट नाइट- 21 (Desert Knight-21)

फ्रांसीसी वायु और अंतरिक्ष बल ने राफेल, एयरबस A-330 मल्टी-रोल टैंकर परिवहन, A-400M सामरिक परिवहन विमान और लगभग 175 कर्मियों के साथ भाग लिया। वहीँ भारतीय वायु सेना के विमानों में राफेल, मिराज 2000, सुखोई -30 एमकेआई शामिल हुयी।

फ्रांसीसी वायु सेना और भारतीय वायु सेना के बीच ये युद्धाभ्यास 20- 24 जनवरी, 2021 को राजस्थान के जोधपुर में हुआ।

सी विजिल -21 (Sea Vigil -21)

द्विवार्षिक अखिल भारतीय तटीय रक्षा अभ्यास ‘सी विजिल -21’ (Sea Vigil -21) का दूसरा संस्करण  किया गया ।

  • समुद्री रक्षा अभ्यास के पहले संस्करण का आयोजन जनवरी 2019 में किया गया था।
  • यह भारत का सबसे बड़ी तटीय रक्षा अभ्यास है।
युद्ध अभ्यास 20 ( Yudh Abhyas-20)

8 फरवरी, 2021 से 21 फरवरी तक को भारत-अमेरिका संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘युद्ध अभ्यास 20’ (Yudh Abhyas 20) राजस्थान में बीकानेर जिले के महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में  हुआ।

  • यह वार्षिक द्विपक्षीय संयुक्त अभ्यास का 16वां संस्करण है।
  • संयुक्त अभ्यास का पिछला संस्करण संयुक्त राज्य अमेरिका के सिएटल में आयोजित किया गया था। दोनों सेनाओं के बीच ‘युद्ध अभ्यास’ को 2004 में शुरू किया गया था
ट्रोपेक्स- 21 ( TROPEX-21)

भारतीय नौसेना का सबसे बड़ा वॉर गेम – TROPEX 21 जो जनवरी की शुरूआत में शुरु हुआ था वर्तमान में भारतीय नौसेना की सभी परिचालन इकाइयों की भागीदारी के साथ चल रहा है जिसमें जहाज, पनडुब्बियां, विमान के साथ-साथ भारतीय सेना, भारतीय वायु सेना और तटरक्षक बल की इकाइयां शामिल हैं।

एक्सरसाइज डेजर्ट फ्लैग -VI ( Exercise Desert Flag- VI)

भारतीय वायु सेना, यूएई, अमेरिका, फ्रांस, सऊदी अरब, दक्षिण कोरिया और बहरीन की वायु सेनाओं के साथ पहली बार ‘एक्सरसाइज डेजर्ट फ्लैग- 6’ युद्धाभ्यास में भाग लिया । यह युद्धाभ्यास संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अल-धफरा एयरबेस पर तीन मार्च से 21 मार्च के बीच हुआ। ‘एक्सरसाइज डेजर्ट फ्लैग’, वार्षिक बहुराष्ट्रीय युद्धाभ्यास है जिसकी मेजबानी यूएई वायुसेना द्वारा की जाती है।

दुस्तलिक- 2 ( Dustlik-2)

भारत – उज्बेकिस्तान संयुक्त सैन्य अभ्यास दस्तलिक (DUSTLIK) II उत्तराखंड के रानीखेत में विदेशी प्रशिक्षण नोड चौबटिया (Foreign Training Node Chaubatia) में हुआ। यह दोनों सेनाओं के वार्षिक द्विपक्षीय संयुक्त अभ्यास का दूसरा संस्करण है। अभ्यास का पहला संस्करण नवंबर 2019 में उज्बेकिस्तान में आयोजित किया गया था।

एस्टरेक्स (AsterX)

एस्टरेक्स फ्रांस का पहला अंतरिक्ष सैन्य अभ्यास है और यूरोपीय देशों में भी पहला है। यह सैन्य ड्रिल देश को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अंतरिक्ष शक्ति बनाने की फ्रांसीसी सरकार की रणनीति का हिस्सा है।

ऑपरेशन संकल्प ( PASSEX)

17 मार्च 2021 को, भारतीय नौसेना और रॉयल बहरीन नेवल फोर्स (RBNF) ने ऑपरेशन संकल्प के तहत फारस की खाड़ी में पैसेज एक्सरसाइज (PASSEX) किया। भारत की तरफ से तलवार  युद्धपोत अभ्यास में शामिल हो गया, जबकि RBNF का प्रतिनिधित्व कोर्वेट अल मुहर्रक’ ने किया।

  • लक्ष्य- इंटरऑपरेबिलिटी बढ़ाना, समुद्री सहयोग को मजबूत करना, प्रवासी भारतीयों की सुरक्षा
डेफएक्सपो इंडिया 2021

कब – 19-21 मार्च , Chennai

वरुण- 2021

भारत और फ्रांस की नौसेनाओं का द्विपक्षीय अभ्यास ‘वरुण-2021’ का 19वां संस्करण 25 अप्रैल से लेकर 27 अप्रैल, 2021 तक अरब सागर में आयोजित किया गया।

  • भारतीय नौसेना की ओर से गाइडेड मिसाइल स्टील्थ डिस्ट्रॉयर आईएनएस कोलकाता, आईएनएस तरकश और आईएनएस तलवार और चेतक इंटीग्रल हेलिकॉप्टरों के साथ एक कलवरी श्रेणी की पनडुब्बी और पी8आई लंबी दूरी का समुद्री टोही विमान( P8I Long Range Maritime Patrol Aircraft) इस अभ्यास में शामिल हुए।
  • वरुण-2021, दोनों देशों के बीच बढ़ती हुई सौजन्यता पर प्रकाश डालता है और साथ ही दो नौसेनाओं के बीच दोस्ताना तालमेल, समन्वय और अंतर-संचालनशीलता के स्तर में वृद्धि को भी दर्शाता है
खंजर 2021 

भारत और किर्गिजस्तान के विशेष बलों ने 16 अप्रैल, 2021 को आतंकवाद विरोधी गतिविधियों पर केंद्रित सैन्य अभ्यास की शुरुआत की। ‘खंजर’ नामक यह सैन्य अभ्यास किर्गिजस्तान की राजधानी बिश्केक में किया गया।

  • 2011 में पहली बार शुरू किए गए, दो सप्ताह तक संचालित इस विशेष अभ्यास में उच्च ऊंचाई वाले युद्ध क्षेत्र, आतंकवाद-निरोधक अभ्यासों पर ध्यान केंद्रित किया गया।
  • यह भारत और किर्गिजस्तान के संयुक्त विशेष बलों के बीच आयोजित होने वाले ‘खंजर’ सैन्य अभ्यास का आठवाँ संस्करण था।
शांतीर ओग्रोशेना 2021

4 अप्रैल, 2021 को बंगबंधु सेनानीबास, बांग्लादेश में बहुराष्ट्रीय सैन्य अभ्यास शांतीर ओग्रोशेना-2021 (SHANTIR OGROSHENA 2021) का उद्घाटन समारोह आयोजित किया गया।

उद्देश्य: क्षेत्र में शांति बनाए रखने हेतु कार्यप्रणाली को मजबूत करना और पड़ोसी देशों के साथ पारस्परिकता को बढ़ावा देना।

अभ्यास का विषय: ‘रोबस्ट पीस कीपिंग ऑपरेशंस’ (Robust Peace Keeping Operations)।

  • बांग्लादेश के राष्ट्रपिता ‘बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की जन्मशती मनाने और मुक्ति के 50 वर्षों के गौरवशाली अवसर पर यह अभ्यास शुरू किया गया है।
Loading...

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time
Leave A Reply