Teachers Day : 5 सितम्बर को ही क्यों मनाया जाता है ‘शिक्षक दिवस’

0 1,282

टीचर्स ही जीवन की राह दिखाते हैं। वही अनुशासन सिखाते है। शिक्षक हमारी शख्सियत को तराशने में जो भूमिका निभाते हैं उसकी बराबरी कोई नहीं सकता है। शिक्षक दिवस के मौके पर हम इसी नेक कार्य के लिए अपने गुरुओं के प्रति आभार प्रकट करते हैं उनके प्रति सम्मान जताते हैं।

5 सितम्बर को मनाया जाता है ‘शिक्षक दिवस’

शिक्षा क्षेत्र में अपना अहम योगदान देने वाले पूर्व उप-राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्‍णन का जन्म के अवसर पर हर साल 5 सितंबर को टीचर्स डे के रूप में मनाया जाता है। राधाकृष्णन भारतीय संस्कृति के संवाहक, प्रख्यात शिक्षाविद और महान दार्शनिक थे। उनका कहना था कि जहां कहीं से भी कुछ सीखने को मिले उसे अपने जीवन में उतार लेना चाहिए। वह पढ़ाने से ज्यादा छात्रों के बौद्धिक विकास पर जोर देने की बात करते थे। वह पढ़ाई के दौरान काफी खुशनुमा माहौल बनाकर रखते थे। 1954 में उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

क्यों मनाते हैं शिक्षक दिवस

5 सितंबर को हमारे देश के प्रथम उपराष्ट्रपति तथा दूसरे राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिवस होता है। राधाकृष्णन का नाम भारत ही नहीं दुनिया भर के महान दार्शनिकों तथा शिक्षाविदों में लिया जाता है। एक बार उनके कुछ शिष्यों ने उनका जन्मदिन मनाने का निश्चय किया। इस बारे में वे जब उनसे अनुमति लेने गए तो उन्होंने कहा कि मेरा जन्मदिन अलग से मनाए जाने की बजाय अगर इसे शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाएगा तो मुझे गर्व महसूस होगा। इसी के बाद से पूरे देश में 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाने लगा। पहली बार 1962 में शिक्षक दिवस मनाया गया था। महान दार्शनिक और शिक्षाविद डॉ. राधाकृष्णन के इस मंतव्य से जाहिर होता है कि उनके मन में शिक्षक समुदाय को लेकर किस तरह का सम्मान भाव था।

शिक्षक दिवस का महत्व 

शिक्षक दिवस पूरे देश में बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जाता है। प्राचीन काल से ही गुरूओं का हमारे जीवन में बड़ा योगदान रहा है। गुरूओं से प्राप्त ज्ञान और मार्गदर्शन से ही हम सफलता के शिखर तक पहुंच सकते हैं।शिक्षक दिवस सभी शिक्षकों और गुरूओं को समर्पित है। इस दिुन शिक्षकों को सम्मानित किया जाता है।

चीन 10 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाता है

गौरतलब है कि कर्ई देशों में टीचर्स डे अलग-अलग तारीखों को मनाया जाता है। भारत में इसे देश के पहले उप-राष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन 5 सितम्बर को मनाया जाता है। लेकिन हमारी देश की तरह दूसरे ऐसे कई देश हैं जहां 5 सितंबर से ठीक एक महीने बाद यानी 5 अक्तूबर को टीचर्स डे मनाते हैं। 1994 के बाद यूनेस्को ने 5 अक्टूबर को वर्ल्ड टीचर्स डे घोषित कर दिया है। हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान के अलावा मालदीव्स, कुवैत, मॉरीशस, कतर, ब्रिटेन, रूस आदि इसी दिन टीचर्स डे मनाते हैं। चीन 10 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाता है।

Loading...

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time
Leave A Reply