अपनी ही आग में जल रहा पाक, बलूचिस्तान विस्फोट में 52 मरे, 102 घायल

0 193

पाकिस्तानी हुक्मरानों ने अपने देश में जो द्वेष की आग लगायी है, आज उसी में उसके देश की मासूम-भोली जनता जल रही है। जिहाद के नाम पर उसने जिस आइएसआइएस को खड़ा किया, उसे सींचा, उसे पाल-पोस कर बड़ा किया, जो आज दुनिया में खुद को आतंक का बादशाह समझता है। उसी आइएसआइएस ने आस्तीन का सांप बनकर पाकिस्तान को डसने का काम कई बार किया। इस बार उसके तबाही का केंद्र था बलूचिस्तान। पाकिस्तानी न्यूज वेइसाइट ‘द डॉन’(the dawn) के अनुसार बलूचिस्तान के एक सूफी मुस्लिम शाह नूरानी दरगाह में हुए भीषण विस्फोट में कम-से-कम 52 लोग मारे गये हैं, जबकि 102 से ऊपर घायल हैं। ये धमाका कुजदार जिले के दूर-दराज के इलाके में हुआ है. बचाव दलों को वहां पहुंचने में मशक्कतों का सामना करना पड़ रहा है!


ब्लास्ट पर एक नजर:

  • बलूचिस्तान के एक सूफी मुस्लिम शाह नूरानी दरगाह में हुआ भीषण विस्फोट.
  • 52 लो मरे, 102 घायल.
  • घटना स्थल शहर के केंद्र से काफी दूर होने के कारण देरी से पहुंची मेडिकल सुविधा.
  • आसपास में कोई बड़ा अस्पताल नहीं था.
  • कराची से 50 एंबुलेस भेजे गये.
  • कराची के अस्पतालों को हाई अलर्ट पर रखा गया.

धमाके के समय हो रहा था ‘धमाल’: पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के गृह मंत्री सरफराज बुगटी ने आशंका जतायी कि इसमें बाहरी लोंगों का हाथ हो सकता है। धमाके की प्रकृति के बारे में उनका कहना था कि जांच जारी है। शाह नूरानी दरगाह में उस वक्त धमाल (एक तरह का नृत्य) जारी था, जब ये जोरदार धमाका हुआ तब शाह नूरानी के तहसीलदार जावेद इकबाल ने कहा कि शनिवार और रविवार को कराची से लोग दरगाह पर आते हैं, जिससे चलते यहाँ काफी भीड़ थी. पाकिस्तान में सूफी फलसफ में यकीन करनेवालों की तादाद लाखों में है। बात भारत की करें, तो यहां दिल्ली सहित अन्य महानगरों में सुरक्षा के पुख्ते इंतजाम किये गय हैं, साथ देश भर के हुक्मरानों को हाई अर्ल जारी कर दिया है।

Loading...

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

Leave A Reply